For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

धर्मेन्द्र शर्मा
  • Male
  • जयपुर, राजस्थान
  • India
Share on Facebook MySpace

धर्मेन्द्र शर्मा's Friends

  • Madan Mohan saxena
  • Aarti Sharma
  • आशीष नैथानी 'सलिल'
  • Neelkamal Vaishnaw
  • deepti sharma
  • डॉ. सूर्या बाली "सूरज"
  • राकेश त्रिपाठी 'बस्तीवी'
  • siyasachdev
  • Naval Kishor Soni
  • VIPUL GOSWAMI
  • प्रदीप सिंह चौहान
  • ganesh lohani
  • Yogendra B. Singh Alok Sitapuri
  • Er. Ambarish Srivastava
  • GOPAL BAGHEL 'MADHU'

धर्मेन्द्र शर्मा's Groups

 

धर्मेन्द्र शर्मा's Page

Profile Information

Gender
Male
City State
जयपुर
Native Place
Sirsa
Profession
www.kanoongurus.com
About me
गुरुदेव सियाग का शिष्य हूँ और सिद्धयोग का अभ्यासी हूँ.

Comment Wall (17 comments)

You need to be a member of Open Books Online to add comments!

Join Open Books Online

At 6:44am on June 11, 2012, Nilansh said…

aadarniya dharam ji aapko bahut badhaai

At 11:18pm on May 18, 2012, डॉ. सूर्या बाली "सूरज" said…

धरम जी ओपन बुक्स ऑनलाइन प्रबंधन द्वारा इस महीने का सक्रिय सदस्य चुने जाने पर आपको बहुत बहुत बधाईयां॥

At 10:43am on March 21, 2012, राकेश त्रिपाठी 'बस्तीवी' said…

श्रीयुत धर्म जी, सादर नमस्कार, आपके कॉमेंट्स पर आभार नही दे पाया और चित्र से काव्य तक का discussion भी बंद हो गया,इसलिए यहाँ कमेंट कर रहा हूँ. बहुत बहुत धन्यवाद.  

At 1:06pm on November 19, 2011, siyasachdev said…

धरम जी,

महीने का सक्रिय सदस्य बनने पर आपको बहुत-बहुत बधाई व शुभकामनायें..

 

At 1:06pm on November 19, 2011, siyasachdev said…

धरम जी,

महीने का सक्रिय सदस्य बनने पर आपको बहुत-बहुत बधाई व शुभकामनायें..

 

At 12:13pm on October 7, 2011, AVINASH S BAGDE said…

Dharmendra ji,

badhai.

shubhkamnaye.

aapke manch-sanchalan me

is aayojan ko nai unchaiya mile

yahi sad-kamna

Avinash bagde.

At 11:04am on September 27, 2011, AVINASH S BAGDE said…

dear Dharmendra ji,

  aapke sahyog aur sahridayata ke liye aabhar

aapka hi

Avinash Bagde.

At 11:12pm on September 16, 2011, Shanno Aggarwal said…

धरम जी,

महीने का सक्रिय सदस्य बनने पर आपको बहुत-बहुत बधाई व शुभकामनायें....आप सबके प्रयास से ओ बी ओ इसी तरह निखरता रहे. 

 

शुभकामनाओं के साथ

-शन्नो अग्रवाल 

At 12:44pm on September 12, 2011,
सदस्य टीम प्रबंधन
Saurabh Pandey
said…

जो कुछ रह गया उसे आपने आज पूरा कर दिया .. हार्दिक धन्यवाद.

At 3:31pm on September 8, 2011, vishnukantmisra said…
aadrniya Dharm ji .
I want to participat in the ..tere bina jiya lage na .. but unable to type in hind.
 
 
 

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Activity

Samar kabeer commented on मिथिलेश वामनकर's blog post ग़ज़ल: उम्र भर हम सीखते चौकोर करना
"जनाब मिथिलेश वामनकर जी आदाब, मज़ाहिया ग़ज़ल का प्रयास अच्छा है, बधाई स्वीकार करें । 'याद कर इतना…"
10 minutes ago
सुरेश कुमार 'कल्याण' added a discussion to the group धार्मिक साहित्य
Thumbnail

जय श्री राम

जय श्री रामदोहे____________________पौष शुक्ल की द्वादशी,सजा अवधपुर धाम।प्राण प्रतिष्ठा हो गए,बाल…See More
2 hours ago
Ashok Kumar Raktale posted a blog post

ग़ज़ल

2122    1212   112/22*ज़ीस्त  का   जो  सफ़र   ठहर   जाएआरज़ू      आरज़ू      बिखर     जाए बेक़रारी…See More
2 hours ago
Sushil Sarna posted blog posts
2 hours ago
सतविन्द्र कुमार राणा posted blog posts
2 hours ago
जयनित कुमार मेहता posted a blog post

अपना इक मेयार बना (ग़ज़ल)

लफ़्ज़ों को हथियार बना फिर उसमें तू धार बनाछोड़ तवज़्ज़ो का रोना अपना इक मेयार बनालंबा वृक्ष बना ख़ुद…See More
2 hours ago
Samar kabeer posted a blog post

ग़ज़ल बतौर-ए-ख़ास ओबीओ की नज़्र

फ़ऊलुन फ़ऊलुन फ़ऊलुन फ़ऊलुन कहूँ,ओबीओ से में क्या चाहता हूँ ग़ज़ल की सुहानी फ़ज़ा चाहता हूँ यही आरज़ू लेके…See More
2 hours ago
जयनित कुमार मेहता commented on मिथिलेश वामनकर's blog post ग़ज़ल: उम्र भर हम सीखते चौकोर करना
"आदरणीय मिथिलेश जी, सादर नमस्कार! अच्छी ग़ज़ल हुई है। ख़ूब मुबारकबाद आपको। एक जिज्ञासा है - क्या…"
yesterday
Admin added a discussion to the group चित्र से काव्य तक
yesterday
सतविन्द्र कुमार राणा commented on सतविन्द्र कुमार राणा's blog post रोला छंद
"आदरणीय सौरभ सर, सादर नमन मुझे वस्तुतः नुक्ते की कोई भी जानकारी नहीं है। मैं आगे ध्यान रखूंगा कि…"
Monday
सतविन्द्र कुमार राणा commented on सतविन्द्र कुमार राणा's blog post रोला छंद
"आदरणीय सुशील सरना जी, आदरणीय धामी सर, सादर आभार नमन!"
Monday
Vivek Rajwanshi is now a member of Open Books Online
Monday

© 2024   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service