For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

मेरे वतन की सियासतों के क़मर को राहू निगल रहा है (४२ )

(१२१२२ १२१२२ १२१२२ १२१२२ )

.

मेरे वतन की सियासतों के क़मर को राहू निगल रहा है 
उक़ूल पर ज्यों पड़े हैं ताले अदब का ख़ुर्शीद ढल रहा है 
**
किसी की माँ का नहीं है रिश्ता किसी भी दल से मगर यहाँ पर
ये पाक रिश्ता भरी सभा में बिना सबब ही उछल रहा है
**
किसी ने की याद सात पुश्तें किसी को कह डाले चोर कोई
जुबान बस में नहीं किसी की जुबाँ का लहज़ा बदल रहा है 
**
कोई करा दे कहीं पे दंगे किसी भी मज़हब की आड़ लेकर
कहीं पे जादू चला किसी का कहीं पे फ़तवा भी चल रहा है
**
ग़रीब के सब हिमायती हैं तमाम वादे उसी की ख़ातिर
यहाँ इसी कश्मकश में लेकिन ग़रीब का दम निकल रहा है
**
अवाम चुपचाप देखता  है अजब नज़ारे सियासतों के
लगे है ऐसे कि घर में आकर कोई उसे जैसे छल रहा है
**
न अब अटल सा है मीर कोई न रहनुमा है कलाम जैसा 
गिरा है मेयार मीर का जो उरूज  से नित फिसल रहा है 
**
चुनाव आयोग दायरे में रहे सदा चाहती सियासत
तमाम कोशिश के बावज़ूद अब उसी का सिक्का ही चल रहा है
**
शराब साड़ी बँटे अभी भी तमामतर टोटके भी जारी
जगह जगह नोट का यूँ मिलना 'तुरंत' जनता को खल रहा है
**
गिरधारी सिंह गहलोत 'तुरंत 'बीकानेरी |
मौलिक एवं अप्रकाशित 

Views: 33

Comment

You need to be a member of Open Books Online to add comments!

Join Open Books Online

Comment by Samar kabeer on Tuesday

// उरूज़  का अर्थ बुलंदी से लिया है//

तो इसे "उरूज" कर लें,'ज्' के नीचे से बिंदी हटा लें ।

Comment by गिरधारी सिंह गहलोत 'तुरंत ' on Tuesday

आदरणीय Samar kabeer साहेब | आदाब | हौसला आफजाई के लिए दिली शुक्रिया | अवाम शब्द पढ़ने सुनने में स्त्रीलिंग ही लगता है अच्छा हुआ सर ,आपने बता दिया मैंने तो हमेशा स्त्रीलिंग में ही प्रयोग किया है | उरूज़  का अर्थ बुलंदी से लिया है |सादर | 

Comment by Samar kabeer on Tuesday

जनाब गिरधारी सिंह गहलोत 'तुरंत' जी आदाब,ग़ज़ल का प्रयास अच्छा है,बधाई स्वीकार करें ।

'अवाम चुपचाप देखती है अजब नज़ारे सियासतों के'

आपकी जानकारी के लिए बता रहा हूँ "अवाम" शब्द पुल्लिंग है ।

'गिरा है मेयार मीर का जो उरूज़ से नित फिसल रहा है'

इस मिसरे में 'उरूज़' का क्या अर्थ है? 

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Activity

Tasdiq Ahmed Khan replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"जनाब आसिफ साहिब आ दाब, छंद पसंद करने और आपकी हौसला अफज़ाई का बहुत बहुत शुक्रिया I "
37 seconds ago
Tasdiq Ahmed Khan replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"जनाब भाई सत्यनारायण साहिब, छन्दों पर आपकी सुंदर प्रतिक्रिया और हौसला अफज़ाई का बहुत बहुत शुक्रिया…"
1 minute ago
डॉ छोटेलाल सिंह replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय अखिलेश कृष्ण श्रीवास्तव जी सुंदर एवं सार्थक सार छंद के लिए बहुत बहुत बधाई"
1 hour ago
डॉ छोटेलाल सिंह replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय तस्दीक अहमद खान साहब सादर अभिवादन चित्रानुरूप लाजबाब रचना के लिए दिली मुबारकबाद कुबूल कीजिए"
1 hour ago
डॉ छोटेलाल सिंह replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय सत्यनारायण सिंह जी चित्रानुरूप बेहतरीन सृजन के लिए दिली मुबारकबाद कुबूल करें"
1 hour ago
डॉ छोटेलाल सिंह replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"बहुत बहुत धन्यवाद आदरणीय"
1 hour ago
सतविन्द्र कुमार राणा replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"सादर आभार सह नमन आदरणीय आसिफ जैदी साहब।"
2 hours ago
सतविन्द्र कुमार राणा replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"सादर आभार सह नमन आदरणीय सत्यनारायण सिंह जी।"
2 hours ago
Asif zaidi replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"मोहतरम डॉ छोटेलाल सिंहजी बहुत बहुत बधाई बढि़या रचना मुबारकबाद  "
7 hours ago
Asif zaidi replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय Satyanarayan Singh जी बहुत बहुत बधाई बहुत प्यारी प्रस्तुति पर स्वीकार करें  "
7 hours ago
Asif zaidi replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय सतविन्द्र कुमार राणा जी बहुत बहुत बधाई बहुत सुन्दर रचना की स्वीकार करें सादर"
7 hours ago
Asif zaidi replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"बहुत बहुत बधाई Anamika singh Ana जी बहुत ख़ूब सूरत पेेशकश की"
7 hours ago

© 2019   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service