For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

1-
हिरणाकुश नामक था, इक सुल्तान।
खुद को ही कहता था, जो भगवान।।

2-
जन्मा उसके घर में, सुत प्रहलाद।
जो करता था हर पल, प्रभु को याद।।
3-
दोनोों  के  थे  विचार, सब  विरुद्ध।
हिरणाकुश था सुत से, भारी क्रुद्ध।।

4-
बहिन होलिका पर था, ऐसा चीर।
जिसे पहनने से ना, जले शरीर।।
5-
मिला होलिका को तब, यह आदेश।
प्रहलाद को गोद लो, कटे कलेश।।

6-
बैठा गोद जपा फिर, प्रभु का नाम।
हुआ होलिका का ही, काम तमाम।।
7-
होलिका दहन का है, यह आधार।
इसी वजह से मनता, ये त्योहार।।

8-
जली बुराई सारी, सारे पाप।
होली हर लेती है, सब संताप।।
9-
होली है रंगों का, पावन पर्व।
हर भारतवासी को, इस पर गर्व।।

10-
होली में मिट जाता, मन का बैर।
सबसे सब मिल पूछें, सबकी खैर।।
11-
होली में करते हैं, सभी धमाल।
गले लगाकर मलते, रंग गुलाल।।

12-
बजते झांझ मँजीरे, ढोल मृदंग।
भर-भर कर पिचकारी, डालें रंग।।
13-
साली फैलाती है, अपना जाल।
जीजा को वह रगड़े,रंग गुलाल।।

14-
होली का भी होता, एक जुनून।
लेकिन साली बिन है, होली सून।।
(मौलिक व अप्रकाशित)
**हरिओम श्रीवास्तव**

Views: 24

Comment

You need to be a member of Open Books Online to add comments!

Join Open Books Online

Comment by Hariom Shrivastava on March 29, 2019 at 12:50pm

हार्दिक आभार आदरणीय समर कबीर साहब।

Comment by Samar kabeer on March 28, 2019 at 11:47am

जनाब हरिओम श्रीवास्तव जी आदाब,अच्छे छन्द लिखे आपने,बधाई स्वीकार करें ।

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Activity

डॉ छोटेलाल सिंह replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय अखिलेश कृष्ण श्रीवास्तव जी सुंदर एवं सार्थक सार छंद के लिए बहुत बहुत बधाई"
1 hour ago
डॉ छोटेलाल सिंह replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय तस्दीक अहमद खान साहब सादर अभिवादन चित्रानुरूप लाजबाब रचना के लिए दिली मुबारकबाद कुबूल कीजिए"
1 hour ago
डॉ छोटेलाल सिंह replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय सत्यनारायण सिंह जी चित्रानुरूप बेहतरीन सृजन के लिए दिली मुबारकबाद कुबूल करें"
1 hour ago
डॉ छोटेलाल सिंह replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"बहुत बहुत धन्यवाद आदरणीय"
1 hour ago
सतविन्द्र कुमार राणा replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"सादर आभार सह नमन आदरणीय आसिफ जैदी साहब।"
2 hours ago
सतविन्द्र कुमार राणा replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"सादर आभार सह नमन आदरणीय सत्यनारायण सिंह जी।"
2 hours ago
Asif zaidi replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"मोहतरम डॉ छोटेलाल सिंहजी बहुत बहुत बधाई बढि़या रचना मुबारकबाद  "
7 hours ago
Asif zaidi replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय Satyanarayan Singh जी बहुत बहुत बधाई बहुत प्यारी प्रस्तुति पर स्वीकार करें  "
7 hours ago
Asif zaidi replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय सतविन्द्र कुमार राणा जी बहुत बहुत बधाई बहुत सुन्दर रचना की स्वीकार करें सादर"
7 hours ago
Asif zaidi replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"बहुत बहुत बधाई Anamika singh Ana जी बहुत ख़ूब सूरत पेेशकश की"
7 hours ago
Asif zaidi replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"मोहतरम उम्दह पेशकश मुबारकबाद तस्दीक साहब "
7 hours ago
Asif zaidi replied to Admin's discussion "ओबीओ चित्र से काव्य तक छंदोत्सव" अंक- 96 in the group चित्र से काव्य तक
"आदरणीय अजय जी बहुत बहुत बधाई उत्तम प्रस्तुति पर सादर"
7 hours ago

© 2019   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service