For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गनेश जी "बागी")

Featured Videos

All Videos (357)

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-"OBO" मुफ्त विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Activity


सदस्य कार्यकारिणी
rajesh kumari commented on rajesh kumari's blog post कहाँ होती मुहब्बत और कैसी कुर्बतें होतीं (ग़ज़ल 'राज')
"आ० धर्मेन्द्र कुमार जी,ग़ज़ल पर आपकी सराहनीय प्रतिक्रिया  से उत्साहित हूँ खेद है देर  से…"
6 minutes ago

सदस्य कार्यकारिणी
rajesh kumari commented on kalpna mishra bajpai's blog post तुम्हारा पहला प्यार
"आह.... निकल जाती है पढ़कर दिल को छू गई आपकी ये प्रस्तुति एक सजीव चित्र सा बनता रहा आँखों के समक्ष…"
59 minutes ago

सदस्य कार्यकारिणी
rajesh kumari commented on savitamishra's blog post अतुकांत कविता
"मन के द्वन्द से उपजे भाव रचना बन कर प्रस्फुटित हुए ,बहुत खूब बधाई आपको इस सुन्दर रचना के लिए |"
1 hour ago

सदस्य कार्यकारिणी
rajesh kumari commented on rajesh kumari's blog post कब-कब दामन में आग लगी कब बरसा पानी कह देंगे (ग़ज़ल 'राज')
"आ० मदन मोहन सक्सेना जी,आपको ग़ज़ल के अशआर प्रभावित किये मेरा लिखना सार्थक हुआ तहे दिल से आभार आपका…"
1 hour ago
harivallabh sharma commented on harivallabh sharma's blog post एक ग़ज़ल..दिन सुहाने आ गए.
"आदरणीय Madan Mohan Saxena साहब आपका हार्दिक आभार आपने उत्साह वर्धित किया ..स्नेह बनाये रखें सादर."
1 hour ago
harivallabh sharma commented on harivallabh sharma's blog post एक ग़ज़ल..दिन सुहाने आ गए.
"आदरणीय नादिर खान साहब आपके द्वारा ग़ज़ल पर हौसला अफजाई की आपका सादर आभार शुक्रिया.मेहरवानी बनाये…"
2 hours ago
harivallabh sharma commented on harivallabh sharma's blog post एक ग़ज़ल..दिन सुहाने आ गए.
"आदरणीय गिरिराज भंडारी साहब आभार, आपने अनुग्रह स्वीकार कर पुनः मार्ग दर्शन किया ..निवेदन है की शेर…"
2 hours ago

सदस्य टीम प्रबंधन
Dr.Prachi Singh commented on Saurabh Pandey's blog post दादी, हामिद और ईद (लघुकथा) // --सौरभ
"आदरणीय सौरभ जी  किस-किस दौर से गुजरा होगा नन्हा हामिद...  कैसे टूटे होंगे उसके ख्वाब जब…"
2 hours ago
Satyanarayan Singh commented on Saurabh Pandey's blog post दादी, हामिद और ईद (लघुकथा) // --सौरभ
"परम आदरणीय सौरभ जी सादर, प्रसिद्ध कहानी ईदगाह आर्थिक विपन्नता के साथ साथ जीवन के आधारभूत यथार्थ के…"
3 hours ago
अखिलेश कृष्ण श्रीवास्तव commented on Saurabh Pandey's blog post दादी, हामिद और ईद (लघुकथा) // --सौरभ
"आदरणीय सौरभ भाईजी, बूढ़ी दादी के लिए न दिल में जगह है न विदेश के उस घर में। आजकल तो शिक्षा भी यही…"
4 hours ago

प्रधान संपादक
योगराज प्रभाकर replied to Rana Pratap Singh's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-49 की सभी रचनाओं का संकलन (चिन्हित मिसरों के साथ)
"सुधि साथियों, मेरा यह सन्देश भले ही मेरी निराशा से उपजा था लेकिन आप सभी आश्वस्त रहें, यह मात्र एक…"
5 hours ago
Madan Mohan saxena commented on rajesh kumari's blog post कब-कब दामन में आग लगी कब बरसा पानी कह देंगे (ग़ज़ल 'राज')
"दिखते पर्वत सहमे-सहमे औ गुम-सुम से झरने नदियाँ कब-कब दामन में आग लगी कब बरसा पानी कह देंगे जो साथ…"
7 hours ago

© 2014   Created by Admin.

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service