For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

बाल साहित्य Discussions (208)

← Back to बाल साहित्य
Discussions Replies Latest Activity

आओ बच्चो खेले खेल ,

आओ बच्चो खेले खेल , खेल खेल में होगा मेल , गुल्ली डंडा हुआ पूराना , बल्ला लेकर आगे आना , ईंट को ही विकेट बनावो , बौनड्री पे सबको लगावो , बॉ…

Started by Rash Bihari Ravi

0 Sep 24, 2011

चुहिया की शादी (बच्चों के लिये एक कविता)

चूँ-चूँ करती चुहिया आई शादी का न्यौता लाई झिन-झिन करते झिंगुर आये बजने लगी शहनाई और चमकते जुगनुओं ने जगमग महफ़िल सजाई मेंढक आया कौवा आया आ…

Started by सुनीता शानू

5 Sep 15, 2011
Reply by Saurabh Pandey

प्यारा सा बचपन

मै पहले बच्चों पर बहुत लिखती थी मगर एक अरसे से सब बन्द हो चुका था आज यहाँ बाल साहित्य का यह ग्रुप देख कर नन्हे-मुन्ने वो बच्चे बहुत याद आये…

Started by सुनीता शानू

0 Jul 28, 2011

इंतजार रहता था ,

इंतजार रहता था , हर रविवार का ,सोमवार से शनिवार , सुबह दस से शाम चार , ये समय था , स्कूल का , करने पड़ते थे  , कितने बहाने , कभी पेट दर्द ,…

Started by Rash Bihari Ravi

0 Jul 26, 2011

आओ बच्चों खेलें खेल

आओ बच्चों खेलें खेल दोस्तों,इस बाल कविता पर अपनी प्रतिक्रिया से अवगत कराएँ| आओ बच्चों खेलें खेल चलो बनायें मिलकर रेल| रामू तुम इंजन बन जान…

Started by dr a kirtivardhan

0 May 6, 2011

बाल गीत: लंगडी खेलें..... आचार्य संजीव 'सलिल'

* बाल गीत: लंगडी खेलें..... आचार्य संजीव 'सलिल' * आओ! हम मिल लंगडी खेलें..... * एक पैर लें जमा जमीं पर। रखें दूसरा थोडा ऊपर। बना संतुलन…

Started by sanjiv verma 'salil'

2 Mar 27, 2011
Reply by sanjiv verma 'salil'

बालगीत: अनुष्का ( संजीव 'सलिल' )

(आदरणीय संजीव सलिल जी की रचना) (लोस एंजिल्स अमेरिका से अपनी मम्मी रानी विशाल के साथ ददिहाल-ननिहाल भारत आई नन्हीं अनुष्का के लिए है यह गीत)…

Started by Admin

6 Oct 31, 2010
Reply by Abhinav Arun

मलिक का वरदान हैं बच्चे

फूल से नाज़ुक बच्चे सारे अपनी माँ के राज दुलारे प्यारी प्यारी बातें इन की सीधा सच्चा इनका मन भी चहरा जैसे चाँद का टुकड़ा कोई नहीं है इ…

Started by SYED BASEERUL HASAN WAFA NAQVI

0 Oct 22, 2010

RSS

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Activity

vijay nikore commented on vijay nikore's blog post जीवन्तता
"आपका हार्दिक आभार, भाई समर कबीर जी।"
12 hours ago
रवि भसीन 'शाहिद' commented on रवि भसीन 'शाहिद''s blog post जानता हूँ मैं (ग़ज़ल)
"आदरणीय समर कबीर साहब, सादर प्रणाम। मैं धन्य हो आपसे शाबाशी पाकर। बहुत शुक्रिया सर।"
13 hours ago
Samar kabeer commented on रवि भसीन 'शाहिद''s blog post जानता हूँ मैं (ग़ज़ल)
"//काफ़िर नहीं शिकार किसी बद-दुआ का हूँ/      शह्र-ए-बुतां की धूल जो अब छानता हूँ…"
13 hours ago
Dr. Chandresh Kumar Chhatlani posted a blog post

मेरे ज़रूरी काम / अतुकांत कविता / चंद्रेश कुमार छतलानी

जिस रास्ते जाना नहींहर राही से उस रास्ते के बारे में पूछता जाता हूँ।मैं अपनी अहमियत ऐसे ही बढ़ाता…See More
14 hours ago
Manan Kumar singh commented on Manan Kumar singh's blog post कान और कांव कांव(लघुकथा)
"आपका बहुत बहुत आभार आदरणीय चंद्रेश जी।"
14 hours ago
Dr. Chandresh Kumar Chhatlani commented on Manan Kumar singh's blog post कान और कांव कांव(लघुकथा)
"गजब की रचना। बहुत-बहुत बधाई इस सृजन हेतु।"
14 hours ago
रवि भसीन 'शाहिद' commented on रवि भसीन 'शाहिद''s blog post जानता हूँ मैं (ग़ज़ल)
"आदरणीय समर कबीर साहब, सादर प्रणाम। ग़ज़ल को अपने आशीर्वाद से नवाज़ने के लिए आपका बहुत आभारी हूँ। सर,…"
14 hours ago
Dr. Chandresh Kumar Chhatlani updated their profile
14 hours ago
Samar kabeer commented on रवि भसीन 'शाहिद''s blog post जानता हूँ मैं (ग़ज़ल)
"जनाब रवि भसीन 'शाहिद' जी आदाब,ग़ज़ल का अच्छा प्रयास अच्छा है,बधाई स्वीकार करें…"
15 hours ago
Samar kabeer commented on मोहन बेगोवाल's blog post तरही ग़ज़ल
"जनाब मोहन बेगोवाल जी आदाब,ओबीओ के तरही मिसरे पर ग़ज़ल का प्रयास अच्छा है,बधाई स्वीकार करें…"
15 hours ago
Usha Awasthi commented on Usha Awasthi's blog post धरणी भी आखिर रोती है
"हार्दिक धन्यवाद आपका"
15 hours ago
Samar kabeer commented on vijay nikore's blog post जीवन्तता
"प्रिय भाई विजय निकोर जी आदाब, बहुत अच्छी रचना हुई है, इस प्रस्तुति पर बधाई स्वीकार करें ।"
15 hours ago

© 2020   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service